Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

June 13, 2024 10:25 pm

पुलिस कर्मियों द्वारा शराब बेचने की की गई थी कोशिश सरकार ने कसी नकेल किया बर्खास्त

मुजफ्फरपुर: शराब बिहार में बना धन उगाही का सबसे बड़ा स्रोत जी हां अपराधी के साथ-साथ अब पुलिस कर्मी भी अपने अधीन जप्त शराब की तस्करी करने की कोशिश कर रहे थे मामला बिहार के वैशाली जिले के सराय थाना का है

सराय थाना के एसआई विदुर कुमार और मालखाना प्रभारी एएसआई मुनेश्वर कुमार और सिपाही सुरेश राम को किया गया बर्खास्त

सराय थाना घटना क्षेत्र में पदस्थापित दरोगा विदुर कुमार ने अपने अधीनस्थ पकड़ी गई शराब की एक बड़ी खेफ को आंशिक रूप से शराब का विनष्टीकरण किया और शेष बचे शराब जो लगभग 828 लीटर के करीब थी.दरोगा विदुर कुमार ने मालखाना प्रभारी एएसआई पद पर पदस्थापित मुनेश्वर कुमार और सिपाही सुरेश राम के साथ मिलाकर चार पहिए वाहन में मालखाना से शराब को लाकर अपने स्वार्थ सिद्धि के लिए शराब को बेचने का प्रयास किया

पंकज सिन्हा,आईजी,तिरहुत प्रक्षेत्र

मधनिषेध विभाग की इंटेलीजेंसी टीम ने दी सूचना उसके आधार पर सदर एसडीपीओ द्वारा की गई छापेमारी

जब पुलिसकर्मियों द्वारा शराब बेचने की सूचना मध्य विभाग के इंटेलिजेंसी टीम के द्वारा वैशाली पुलिस को दी गई तो वैशाली पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए जिले के वरिये पदाधिकारी के नेतृत्व में खुद सदर एसडीपीओ द्वारा छापे मारी की गई. छापामारी में सदर एसडीपीओ द्वारा एक चार चक्का वाहन जप्त किया गया और उसमे वहां से करीब 828 लीटर शराब की जपती हुई मामले के संज्ञान में आते ही वरिष्ठ पुलिस अधिकारी द्वारा वहां पदस्थापित दरोगा विदुर कुमार एएसआई मुनेश्वर कुमार और सिपाही सुरेश राम को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया और उन्हें न्यायिक किरासत में जेल भेज दिया गया.

सराय थाना में कांड संख्या 237 /23 में दर्ज हुआ मामला पुलिस द्वारा किया गया अनुसंधान

यह घटना 17.9 2023 की है जहां संलिप्त पुलिस कर्मियों पर सराय थाना में कांड संख्या 237/23 दर्ज हुआ .पुलिस द्वारा मामले का अनुसंधान किया गया .अनुसंधान में मामला सत्य पाया गया तो तत्काल विभाग द्वारा उन पर कार्रवाई की गई और सरकार द्वारा तत्काल प्रभाव से उन्हें निलंबित कर दिया गया.

जीरो टॉलरेंस नीति पर सरकार ने किया काम कहा कोई भी शराब में संलिप्त लोगों को नहीं छोड़ा जाएगा

अनुसंधान में जब मामला पूरी तरह सत्य पाया गया तो संलिप्त पुलिस कर्मियों को तिरहुत क्षेत्र के आईजी द्वारा उस समय के तात्कालिक थाना प्रभारी विदुर कुमार और मालखाना प्रभारी एएसआई मुनेश्वर कुमार बर्खास्त कर दिया गया और सिपाही सुरेश राम को वैशाली एसपी द्वारा बर्खास्त करने का आदेश दिया गया.

विज्ञापन
0
0

Leave a Comment

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

Weather Data Source: wetter morgen Delhi

राशिफल