Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

May 29, 2024 1:10 am

बिहार के मुंगेर में मनाई गई सबसे बड़ी दीप उत्साह करीब 7 लाख 51 हजार दीपों को किया गया प्रज्वलित करीब 10000 लीटर तिल के तेल का प्रयोग


मुंगेर : मुंगेर मुख्यालय से लगभग 25 किलोमीटर दूर बरियारपुर प्रखंड के एनएच 80 गंगा तट के किनारे बसा कल्याणपुर गांव जहां बड़ी देवी महारानी के प्रांगण में बिहार का सबसे बड़ा दीपोत्सव का आयोजन यूथ क्लब कल्याणपुर, काली पूजा समिति, बड़ी दुर्गा मंदिर समिति सहित ग्रामीणों के द्वारा आयोजन किया गया .

आयोजन समिति के सदस्य

मंदिर प्रांगण से गंगा तट तक सजा दीप कई वरिय पदाधिकारी बने इसके साक्षी

बड़ी देवी प्रांगण से लेकर पूरे गंगा तट और एनएच 80 तक 7 लाख 51 हजार दिए जलाए गए . इस दीपोत्सव में भागलपुर प्रक्षेत्र के डीआईजी , मुंगेर डीएम ,मुंगेर एसपी के साथ साथ आयोजक और मुंगेर सांसद और भी इस दीपोत्सव का वीडियो कॉल के माध्यम से दीप प्रज्वलित कर शुभारंभ किया. दीपोत्सव के पूर्व गंगा महाआरती का भी आयोजन किया गया.

दीप उत्सव की भव्यता ग्रामीणों के सहयोग से हुई समभाव बना राज्य में आकर्षण का केंद्र

दीपोत्सव की भव्यता देखते ही बन रही थी .बिहार के इस सबसे बड़े दीपोत्सव में इलाके वासियों ने बढ़चढ़कर लिया हिस्सा .करीब 7 लाख 51 हजार दीपक जलाने के लिए मुंगेर के कई प्रखंड के अलावा अन्य प्रदेशों से भी बड़ी संख्या में श्रद्धालु कल्याणपुर पहुंच दीपो को जलाया.इस दीपोत्सव में महिलाएं एवं बच्चे के साथ साथ ग्रामीणों में खासा उत्साह देखने को मिला, जो सभी भेद भाव को भुला दीपोत्सव में दीप जलाने को ले अपना सहयोग दे रहे थे.यह दीपोत्सव में लगभग 7 एकड़ गंगा तट के साथ साथ गांव के गली चौराहा सभी जगमगा उठे.

इन दीपक को जलाने में करीब 100 किलो गाय का घी करीब 10000 लीटर तिल के तेल का प्रयोग हुआ

गंगा आरती और दीप महोत्सव का आयोजन

इन दीपक को जलाने में करीब एक सौ किलो गाय का घी,10 हजार लीटर तिल के तेल का उपयोग किया गया.आयोजक समिति के सदस्य ने बताया की बिहार के सबसे बड़े दीपोत्सव कार्यक्रम का आयोजन सबसे पहले वर्ष 2019 में 1 लाख दिए जला कर किया गया था , जिसके बाद वर्ष 2020 में 2 लाख 51 हजार, वर्ष 2021 में 5 लाख दीप जलाकर भव्य दीपोत्सव का आयोजन हुआ । पूर्व के वर्ष 2022 में 6 लाख दीप जलाकर बिहार का सबसे बड़ा दीपोत्सव मनाया गया था. इस बार 2023 में 7 लाख 51 हज़ार दीप जलाकर बिहार का सबसे बड़ा दीपोत्सव मनाया गया.

दीप उत्सव को देखने के लिए लोगों में काफी उत्साह

ग्रामीणों द्वारा दीप उत्सव

दीपोत्सव देखने आए लोगों ने बताया की वे इससे पहले इतनी बड़ी संख्या में दीपोत्सव को नही देखा. जिसे देखने के बाद पता चलता है की स्वर्ग जो है वो धरती पर आ गया है .इस दीपोत्सव की चर्चा बिहार ही नही बल्कि बिहार के बाहर भी हो रही है.

विज्ञापन

0
0

Leave a Comment

Share this post:

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

Weather Data Source: wetter morgen Delhi

राशिफल