पटना पुलिस ने लुटेरा गिरोह का किया पर्दाफाश

मालसलामी में हुए वृद्ध से 17 लाख लूट कांड में पोता लाइनर बन अपराधियो को अपने ही चाचा के पास जमीन के बेचे 24 लाख रुपये को लूटने की सुपारी दी थी।

पटना पुलिस ने राजधानी में लुटेरा गिरोह का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने बीते 31 जनवरी को पटना के मालसलामी थाना क्षेत्र में हुए 17 लाख लूट मामले सहित कई बड़े मामलों का खुलासा किया है। एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो ने बताया कि इस लूट मामले का मुख्य लाइनर उसका पोता और बहू थी। जिसको पुलिस ने पहले ही घटना के बाद गिरफ्तार कर जेल भेजा था। हालांकि मामले का सफल उद्भेदन नही हुआ। जिसको लेकर सभी के मोबाइल को सर्विलांस पर रखा गया था। जिससे कई जानकारी पुलिस के हाथ लगी।

मालसलामी में वृद्ध महिला से 17 लाख लूट की पूरी प्लानिंग उसी के पुत्र और बहू ने पेशेवर अपराधी अंकित पटेल उर्फ भोमा से संपर्क कर करवाया था। इस मामले की गम्भीरता को देखते हुए 100 डायल ,मालसलामी ,मेहंदीगंज व अन्य पुलिसकर्मियों के सहयोग से टीम गठन कर अपराधियो की धर पकड़ की गई। इस मामले में पुलिस ने कुल 9 हिस्ट्रीशीटर को गिरफ्तार किया है। एसएसपी ने बताया कि पुलिज़ की पूछताछ में अपराधियों ने कई खुलासे किए। जिसमे गर्दनीबाग शोरूम गोलीकांड,फतुहा में ज्वेलरी लूट की प्लानिंग ,विक्रम गोलीबारी ,मालसलामी 24 लाख लूट की योजना में इस गिरोह के तार जुड़े थे। पुलिस ने लुटेरा गिरोह के सरगना चंदन साव उर्फ पीयूष सहित 9 अपराधियो को गिरफ्तार किया है।

दरअसल मालसलामी में हुए वृद्ध से 17 लाख लूट कांड में पोता लाइनर बन अपराधियो को अपने ही चाचा के पास जमीन के बेचे 24 लाख रुपये को लूटने की सुपारी दी थी। जिसका पूरा खुलासा गिरफ्त में आये अपराधियो से हुआ है। पकड़ में आये लुटेरा गिरोह के पास से 4 देसी पिस्टल ,4 मैगजीन ,24 कारतुस ,14 मोबाइल ,2 लैपटॉप , लूट के रुपये से खरीदे 2 सोने की चेन 1चाकू सहित लुटे गए 17 लाख में 1 लाख रुपये बरामद किया गया है। लूट की घटना के बाद अपराधियों ने कोलकाता जाकर अय्यासी में रुपये खर्च किया था।

Show More

Related Articles