तेजस्वी यादव ने बता दिया बिहार को कब मिलेगा विशेष राज्य का दर्जा

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा है कि 2024 में अगर हमारा गठबंधन बिहार की 40 में से 39 सीटें जीतता है तो जो भी प्रधानमंत्री होंगे, स्वयं पटना आकर बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की घोषणा करेंगे.

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) ने कहा है कि 2024 में अगर हमारा गठबंधन बिहार की 40 में से 39 सीटें जीतता है तो जो भी प्रधानमंत्री होंगे, स्वयं पटना आकर बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की घोषणा करेंगे. क्योंकि हम नीति, सिद्धांत, सरोकार, विचार और वादे पर अडिग रहते हैं. हमारी रीढ़ की हड्डी सीधी है. हम जो कहते हैं वो करते हैं.

बता दें कि नीतीश सरकार में मंत्री विजेंद्र यादव ने हाल ही में कहा था कि विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग करते करते हम थक गये. केंद्र सरकार ने विशेष राज्य के दर्जा को लेकर कमेटी का भी गठन किया था. उसकी रिपोर्ट भी आयी. लेकिन उसके बाद भी कोई फैसला नहीं हुआ. अब कितनी मांग की जाये. विजेंद्र यादव बिहार सरकार में योजना-विकास औऱ ऊर्जा विभाग के मंत्री हैं.


राजद नेता तेजस्वी यादव ने उन्ही के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए ट्वीट किया है. तेजस्वी यादव ने आगे लिखा है कि पटना विश्वविद्यालय को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा नहीं दिला पाए वो मुख्यमंत्री बिहार को विशेष राज्य का दर्जा क्या दिला पाएँगे? क्या यही 40 में से 39 सांसदों वाला डबल इंजन है? मैंने पहले ही कहा था नीतीश जी थक चुके है. अब तो उनकी पार्टी स्वयं मान रही है कि पार्टी भी थक चुकी है.

तेजस्वी यादव की यह प्रतिक्रिया ऐसे समय में आई है जब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जातीय जनगणना
के मुद्दे को लेकर बैकफुट पर हैं. अभी कुछ दिन पहले ही बिहार में पक्ष-विपक्ष के सभी दलों का प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में जातिगत जनगणना के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मिला था. इसमें राष्ट्रीय जनता दल, बिहार भाजपा, वाम दलों समेत सभी पार्टियों के नेता दिल्ली में प्रधानमंत्री से मिले थे. अब उसके कुछ दिनों बाद ही केंद्र सरकार ने कह दिया है कि जातिगत जनगणना नहीं कराई जाएगी.

यह भी पढ़ें- जातिगत जनगणना राष्ट्र हित में, पुनर्विचार करे केंद्र: नीतीश कुमार

Show More

Related Articles