राजद उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी का बड़ा बयान, कहा पार्टी से निष्कासित हो चुके हैं तेजप्रताप यादव

अपनी ही पार्टी व संगठन में अलग-थलग पड़े पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव (Tejpratap Yadav) पार्टी से निष्कासित हो गये हैं. राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय उपाध्याय शिवानन्द तिवारी ने कहा है कि तेजप्रताप यादव ने अपने आपको खुद पार्टी से निष्कासित करवा चुके हैं.

दरअसल, राजद उपाध्यक्ष शिवानन्द तिवारी हाजीपुर के राजद कार्यालय में मीडिया से बात कर रहे थे. इसी दौरान उन्होंने ये बातें कहीं. जब उनसे यह पूछा गया कि तेज प्रताप यादव को निष्कासित क्यों नहीं किया जा रहा. इसके जवाब में शिवानंद तिवारी ने कह दिया कि तेजप्रताप पार्टी में हैं कहां? वह खुद अपने आप को निष्कासित करवा चुके हैं. तेजप्रताप यादव ने जिस तरह छात्र संगठन बनाया और उसमें लालटेन सिंबल के इस्तेमाल पर रोक लगाई गई इससे बहुत बातें क्लियर हो गई हैं. वरिष्ठ आरजेडी नेता ने आगे कहा कि मैसेज बिल्कुल क्लियर है, तेजप्रताप को निष्कासित करने की आवश्यकता भी नहीं है. क्योंकि तेजप्रताप ने खुद इस बात की जानकारी दी थी कि उनके छात्र संगठन के सिंबल में लालटेन के इस्तेमाल पर रोक लगा दी गई है. जब तेजप्रताप ने खुद अपनी बातें रख दी हैं तो वह बाकी बातों का कोई मतलब नहीं रह जाता.

बताते चलें कि राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े पुत्र तेजप्रताप यादव को पार्टी व संगठन में अलग-थलग कर दिया गया. जिसके बाद उन्हें छात्र राजद के संरक्षक के पद से भी हटा दिया गया था. इन सब से नाराज होकर तेजप्रताप ने अलग संगठन ‘छात्र जनशक्ति परिषद्’ बनाई है.
अभी हाल ही में उनका यह बयान खुब चर्चा में रहा था, जिसमें उन्होंने कहा था कि उनके पिता लालू यादव को कुछ लोगों ने दिल्ली में बंधक बनाकर रखा है. उन्होंने आगे कहा कि लालू प्रसाद को जेल से आये लंबा समय हो गया है, लेकिन उनको पटना नहीं आने दिया जा रहा है. उन्हें दिल्ली में ही रोककर रखा गया है. चार-पांच लोग पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने का सपना देख रहे हैं. यह सब कोई जानता है. उनका नाम लेने से कोई फायदा नहीं.

 

यह भी पढ़ें- अपने पिता लालू यादव पर यह क्या बोल गए तेजप्रताप, जानिए यहां

Show More

Related Articles