बिहार: राष्ट्रपति के कार्यक्रम से नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बनाई दूरी, बताई यह वजह

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अपनी तीन दिवसीय यात्रा पर कल ही बिहार पहुंच चुके हैं. इस दौरान वो आज बिहार विधानसभा के शताब्दी समारोह में उपस्थित रहेंगे.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अपनी तीन दिवसीय यात्रा पर कल ही बिहार पहुंच चुके हैं. इस दौरान वो आज बिहार विधानसभा के शताब्दी समारोह में उपस्थित रहेंगे. इस कार्यक्रम के लिए सत्ता पक्ष व विपक्ष के सभी बड़े नेताओं समेत विधायकों को भी आमंत्रित किया गया है.
इस कार्यक्रम के लिए बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को भी आमंत्रित किया गया है. लेकिन तेजस्वी यादव ने इस कार्यक्रम से दूरी बना ली है. उन्होंने इसकी वजह होने वाले विधानसभा उपचुनाव के चलते अपनी व्यस्तता को बताया है. सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर उन्होंने लिखा है कि माननीय राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविन्द जी के बिहार आगमन पर आज पटना हवाई अड्डा पर उनका गर्म जोशी से स्वागत किया.
दरभंगा पहुँच चुका हूँ. कुशेश्वर स्थान उपचुनाव में पूर्व निर्धारित चुनावी कार्यक्रम एवं जन प्रतिबद्धता के चलते कल विधानसभा भवन के शताब्दी समारोह में अनुपस्थित रहूँगा.

तेजस्वी यादव के कार्यक्रम में अनुपस्थिति दर्ज कराने की बात पर भाजपा हमलावर हो गई है. बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व वर्तमान में राज्यसभा सांसद सुशील मोदी ने तेजस्वी यादव पर हमला किया है. उन्होंने कहा है कि बिहार विधानसभा के शताब्दी समारोह में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का आना राज्य के लिए गौरव की बात है. वे बिहार के राज्यपाल रह चुके हैं.
उनकी गरिमामय उपस्थिति वाले समारोह में अनुपस्थित रहकर नेता, प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव ने दलित समाज से आने वाले एक अतिशालीन व्यक्ति का अपमान किया.
सुशील मोदी ने आगे कहा कि वे नीतीश सरकार के शपथ-ग्रहण समारोह में भी शामिल नहीं हुए थे.

बता दें कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अपने तीन दिवसीय दौरे पर पटना पहुंचे हैं. विधानसभा में शिरकत करने के अलावे पटना सिटी के तख्त हरिमंदिर साहिब, पटना जंक्शन महावीर मंदिर व खादी माॅल जाने का भी राष्ट्रपति का कार्यक्रम है.

यह भी पढ़ें- बिहार के इन सात जिलों में हो सकती है भारी बारिश, मौसम विभाग ने किया अलर्ट

Show More

Related Articles