स्वास्थ्य मंत्रालय की नई गाइडलाइन, बिना लक्षण या हल्के लक्षण वाले मरीजों को अब 7 दिनों का आइसोलेशन

केन्द्र सरकार ने नई गाइडलाइन जारी की है. जिसके मुताबिक बिना लक्षण या हल्के लक्षण वाले कोरोना मरीजों को अब अपने घरों पर 14 दिनों के बजाय सिर्फ 7 दिन आइसोलेट या क्वारंटीन रहना होगा.

दुनियाभर से आ रही कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की आहट के बीच बिहार से चिंतित करने वाली खबर सामने आई है. देश व राज्य में एक बार फिर से कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने लगी है.
तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण की रफ्तार के बीच केन्द्र सरकार ने नई गाइडलाइन जारी की है. जिसके मुताबिक बिना लक्षण या हल्के लक्षण वाले कोरोना मरीजों को अब अपने घरों पर 14 दिनों के बजाय सिर्फ 7 दिन आइसोलेट या क्वारंटीन रहना होगा. यही नहीं केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ताजा गाइडलाइन में ऑक्सीजन सैचुरेशन का पैमाना भी 94% से बदलकर 93% कर दिया गया है.
गाइडलाइन के मुताबिक आइसोलेशन के इन 7 दिनों की शुरुआत कोरोना की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के दिन से मानी जाएगी. आइसोलेशन के दौरान अगर मरीज को लगातार 3 दिनों तक बुखार नहीं तो उसे आठवें दिन से कोरोना निगेटिव माना जाएगा. इसके लिए कोरोना की जांच भी जरूरी नहीं होगी.
गौरतलब है कि अमेरिका और ब्रिटेन के बाद भारत तीसरा प्रमुख देश है जिसने आइसोलेशन के दिन कम किए हैं.

बताते चलें कि अकेले बिहार में पिछले 24 घंटों में 2379 नये कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं. इसके साथ ही एक्टिव संक्रमितों की संख्या बढ़कर 5785 हो गयी है.

Show More

Related Articles