कब मनाई जाएगी मकर संक्रांति 14 या 15 जनवरी? जानिये यहां

धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक मकर संक्रांति के दिन स्नान दान कर भगवान सूर्य देव की पूजा अर्चना की जाती है.

हर साल की तरह इस साल भी मकर संक्रांति को लोगों में भ्रम की स्थिति है. मकर संक्रांति 14 जनवरी को है या 15 जनवरी को.
सनातन धर्म में मकर संक्रांति का खास महत्त्व है. धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक मकर संक्रांति के दिन स्नान दान कर भगवान सूर्य देव की पूजा अर्चना की जाती है. हर साल मकर संक्रांति 14 जनवरी को ही मनाई जाती है, लेकिन इस बार मकर संक्राति 14 और 15 जनवरी दो दिन मनाई जाएगी.

जब सूर्य धनु राशि से निकलकर मकर में प्रवेश करता है, तो मकर संक्रांति पड़ती है. वही संक्रांति तब शुरू होती है जब सूर्य देव राशि परिवर्तन कर मकर राशि में पहुंचते हैं. और इस बार सूर्य देव 14 जनवरी की दोपहर 2 बजकर 27 मिनट पर गोचर कर रहें हैं. लेकिन कुछ कैलेंडर के अनुसार 14 जनवरी तो कुछ के अनुसार 15 जनवरी को शुभ है.
इस बार सूर्य 13 जनवरी को संध्या सात बजकर 30 मिनट पर प्रवेश कर रही है. इस कारण मकर संक्राति 14 जनवरी के  2 बजकर 27 मिनट से लेकर 15 जनवरी के 12 बजे के पहले तक शुभ होगा.

Show More

Related Articles