राज्य में खनिज संपदा की लूट बंद करे राज्य सरकार : दीपक प्रकाश

मनरेगा में मजदूरी क्यों घटा रही कांग्रेस समर्थित सरकार

रांची : भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद दीपक प्रकाश ने रविवार को राज्य में खनिज संपदा की हो रही लूट को लेकर फिर एकबार राज्य सरकार को कटघरे में खड़ा किया। प्रकाश ने कहा कि हेमंत सरकार ने राज्य की खनिज संपदा को लूटने और लुटवाने का रिकॉर्ड बना दिया। पूरे प्रदेश में खनिज संसाधनों की अवैध माइनिंग और तस्करी धड़ल्ले से जारी है। उन्होंने कहा कि विगत 31 मार्च को लीज की समाप्ति के बाद भी खानों में खनिजों का उत्खनन होना यह पूरी तरह साबित करता है कि इसमें खनन विभाग, पुलिस प्रशासन और खनन माफियाओं का मजबूत गठबंधन है। कहा कि पहले भी राज्य के कई जिलों में अवैध उत्खनन में शामिल लोगों की जाने भी जा चुकी है।

उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन अवैध उत्खनन और तस्करी को रोकने के बजाए उसे बढ़ावा देने में शामिल है। राज्य में रोज सरकार के संरक्षण में करोड़ों रुपए की अवैध उगाही हो रही है। खनिजो की अवैध तस्करी कराने के लिये प्रशासन द्वारा प्रति ट्रक हजारों रुपए की बोली लगाई जाती है। राज्य की संपदा के रक्षक ही भक्षक बन चुके हैं। उन्होंने कहा कि सरकार अविलंब ऐसे अवैध खनन और तस्करी में शामिल लोगों पर कड़ी कार्रवाई करे, अन्यथा प्रदेश भाजपा के कार्यकर्ता सड़कों पर उतरकर आंदोलन के लिए बाध्य होंगे।

मनरेगा मजदूरी क्यों घटा रही राज्य सरकार

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद दीपक प्रकाश ने कहा कि मनरेगा योजना पर अपनी पीठ थपथपाने वाले कांग्रेस पार्टी के ग्रामीण विकास मंत्री आज मजदूरों की मजदूरी बढ़ाने के बजाए घटा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना काल मे केंद्र सरकार ने 12 रुपए मजदूरी मनरेगा कर्मियों के बढ़ाए है, लेकिन राज्य सरकार अपने हिस्से की राशि घटाकर मजदूरी कम कर रही है जो दुर्भाग्यपूर्ण है। यह सरकार किसान मज़दूर विरोधी सरकार है।

Show More

Related Articles