मंत्री आलमगीर आलम रिक्शा से पहुंचे धरना स्थल

बढ़ती मंहगाई के खिलाफ कांग्रेसियों ने राजभवन के समक्ष दिया धरना

रांची : 31 मार्च से देशभर में कांग्रेस महंगाई मुक्त भारत अभियान चला रही है। जिसका गुरुवार को राजभवन के सामने धरना प्रदर्शन के साथ समापन हुआ, लेकिन झारखंड कांग्रेस ने अब इस आंदोलन को पंचायत और प्रखंड तक ले जाने का संकल्प पार्टी नेताओं ने लिया है। राजभवन के सामने कांग्रेस का धरना प्रदर्शन हुआ, जिसकी अध्यक्षता झारखंड कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सांसद गीता कोड़ा ने की। पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी और बढ़ती मंहगाई के खिलाफ प्रदेश कांग्रेस के नेताओं ने गुरुवार को केंद्र सरकार के खिलाफ राजभान के समक्ष धरना दिया। धरना स्थल पर विरोध के तौर पर गैस सिलिंडर, स्कूटर पर फूलमाला पहनाया। धरना स्थल से कांग्रेसियों ने पीएम मोदी पर जमकर हमला किया। राजभवन के समक्ष धरनास्थल पर पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय, सांसद गीता कोड़ा और मंत्री आलमगीर आलम, पेट्रोल डीजल की कीमतों में हर दिन हो रही बढ़ोतरी का विरोध जताने के लिए रिक्शा पर सवार होकर धरनास्थल पहुंचे। वहीं धरनास्थल पर ठेले पर स्कूटर, गैस सिलेंडर नजर आया, तो ज्यादातर नेताओं के गले में आलू, प्याज, तेल, सब्जी की माला नजर आए। इसमें पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा, पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय, मंत्री आलमगीर आलम, डॉ. रामेश्वर उरांव, बादल पत्रलेख, बन्ना गुप्ता, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुखदेव भगत, प्रदीप यादव सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस नेताओं कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। धरना को संबोधित करते हुए विधायक दल के उप नेता प्रदीप यादव ने कहा कि महंगाई से निपटना सबसे बड़ी चुनौती है। जब-जब देश में भाजपा की सरकार आई है साथ में महंगाई लेकर आई है। आज जो श्रीलंका का हाल हुआ है, भारत का भी होने वाला है। यहां की जनता को सावधान होना पड़ेगा। भाजपा को सत्ता से उतरना होगा। जनता को सड़कों पर उतरना होगा। उन्होंने कहा कि भाजपा कॉरपोरेट घराने को बढ़ाने का काम कर रही है, इसे भगाना पड़ेगा। वहीं धरना स्थल पर रिक्शा से पहुंचे विधायक दल के नेता आलमगीर आलम ने कहा कि पेट्रोल-डीजल की कीमत जिस कदर बढ़ रही है, उससे बाइक और गाड़ी रखना दूभर हो गया है। जनता को पैदल चलना पड़ेगा। इसलिए केंद्र सरकार का विरोध करते हुए मैंने आज रिक्शा से धरना स्थल पर आने का काम किया है। मंत्री आलमगीर आलम ने कहा कि केंद्र की गलत नीतियों के कारण आज महंगाई बढ़ी है। कांग्रेस आम जनता के साथ सड़कों पर लगातार विरोध करती रहेगी। भाजपा की सरकार जनता को ठग रही है। विधायक दल के नेता आलमगीर आलम ने कहा कि जनता को धोखा देकर चुनाव के समय लोगों को दिग्भ्रमित कर वोट लेती है। उन्होंने कहा कि जब 5 राज्यों में चुनाव हो रहे थे तब 137 दिनों तक कीमतें थमी रहीं और नतीजे आते ही जनता को महंगाई की आग में झोंक दिया गया।

पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा ने कहा कि भाजपा की सरकार में सरसों तेल 100 रुपए की जगह 200 रुपए लीटर, चावल 20 रुपए किलो की जगह 60-70 रुपए किलो, पेट्रोल 65 रुपए लीटर की जगह 108 रुपए लीटर बिक रहा है और जनता त्राहि-त्राहि कर रही है।

झारखंड कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष गीता कोड़ा ने कहा कि कांग्रेस चाहती है कि महंगाई जैसे जनसरोकार के मुद्दे पर सदन में चर्चा हो, लेकिन संसद में इसपर भाजपा की सरकार सदन में चर्चा तक नहीं होने देना चाहती है। गीता कोड़ा ने कहा कि सबका साथ, सबका विकास की जगह भाजपा का नया नारा हो गया है, सबका साथ परंतु खास मित्रों का विकास बाकी का विनाश। गीता कोड़ा ने कहा कि कांग्रेस महंगाई को कम कराकर ही दम लेगी।

पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय ने कहा कि यह महंगाई नहीं, बल्कि केंद्र की सरकार की पॉकेटमारी है। उन्होंने कहा कि जब देश में मनमोहन सिंह की सरकार थी तब पूरी दुनिया मे आर्थिक मंदी थी, पर भारत की अर्थव्यवस्था अंगद की पैर की तरह अटल और अडिग था। सुबोधकांत सहाय ने कहा कि संख्या के बल पर भले ही मोदी सरकार सत्ता में हो पर कांग्रेस चुप बैठने वाली नहीं है।

Show More

Related Articles