गया में नक्सलियों का आतंक : एक ही परिवार के 4 सदस्यों को फांसी पर लटकाया,घर भी विस्फोट कर उड़ा दिया

पुलिस की मुखबिरी का आरोप लगाकर नक्सलियों ने सूरज सिंह भोक्ता का घर विस्फोट कर उड़ा दिया और उसके दो बेटों एवं पुतोहू को फांसी पर लटका कर हत्या कर दी।

 

बड़ी खबर बिहार के गया से है जहां नक्सलियों ने कहर बरपाया है. पुलिस की मुखबिरी का आरोप लगाकर नक्सलियों ने सूरज सिंह भोक्ता का घर विस्फोट कर उड़ा दिया और उसके दो बेटों एवं पुतोहू को फांसी पर लटका कर हत्या कर दी।एक परिवार के चार लोगों की हत्या के बाद इलाके में सनसनी फैल गई है।मौके पर पहुंच पुलिस टीम छानबीन में जुटी है।
यह नक्सली वारदात डुमरिया के मोनवार गांव में हुई है।घटना को अंजाम देने के बाद नक्सलियों ने यहां एक पर्चा भी छोड़ा है जिसमें उसने लिखा है कि षडयंत्र के तहत उनके चार साथी कोो सूर्ज सिंह भोक्ता ने अपने घर में ज़हर देकर मरवाया था और बाद में पुलिस की सहायता से फर्जी इनकाउंटर करवाया था।पर्चा में विश्वघात का आरोप लगाते हुए चार दो महिला समेत चार लोगों को सूली पर चढ़ा दिया और लिखा है कि गद्दारों व विश्वघातियों को ऐसी ही सजा दी जाएगी। वही नक्सली ने अपने 4 साथियों का जिक्र करते हुए अमरेश कुमार, सीता कुमार, शिवपूजन कुमार और उदय कुमार की शहादत का बदला बताया है।

वही पुलिस इसकी सूचना पाते ही घटना स्थल पहुंची है और छानबीन में जुट गई है पर पुलिस के कोई भी अधिकारी कुछ बताने से इंकार कर रहे हैं।

गौरतलब है कि एक वर्ष पूर्व गया जिले के डुमरिया थाना क्षेत्र के मोनबार गांव में पुलिस ने एनकाउंटर में 4 नक्सलियों को मार गिराया था। उक्त घटना को नक्सलियों के अन्य नेताओं ने फर्जी बताया था। नक्सली नेताओं का कहना था कि जिस घर में नक्सली ठहरे थे, उस घर के लोग पुलिस से मिलकर पहले खाने में जहर देकर मार दिया और फिर पुलिस को बुलाकर झूठा एनकाउंटर करवाया। इसी के विरोध में बीती रात की घटना को अंजाम दिया गया है।

यह भी पढ़ें- पटना: एटीएम तोड़ता रंगेहाथ पकड़ा गया आर्मी जवान व बैंककर्मी, पुलिस ने किया गिरफ्तार

Show More

Related Articles