दारोगा ने बनाया अवैध कमाई का रिकॉर्ड, 29 महीने का वेतन खाते में ही लेकिन ले ली 71 लाख की जमीन

डोरीगंज (सारण) के तत्कालीन थानाध्यक्ष संजय प्रसाद ने अवैध बालू खनन से अकूत संपत्ति बना ली है.

 

डोरीगंज (सारण) के तत्कालीन थानाध्यक्ष संजय प्रसाद ने अवैध बालू खनन से अकूत संपत्ति बना ली है. आर्थिक अपराध इकाई (ई ओ यू) ने जब उनके ठिकानों पर छापेमारी की तो अवैध कमाई का खुलासा हुआ. ये छापेमारी पश्चिम चंपारण के साठी थाने के समहौता गांव स्थित उनके पैतृक आवास और मुजफ्फरपुर के काजी मोहम्मदपुर थाना क्षेत्र में उनके किराये के फ्लैट में की गयी.
छापेमारी के दौरान ईओयू के अधिकारियों की आंखें खुली की खुली रह गईं, जब उन्हें पता चला कि दारोगा संजय प्रसाद ने पिछले 29 महीने से अपनी सैलरी नहीं छुई है. जबकि इसी दौरान उन्होंने 71 लाख रूपये की जमीन खरीद ली है.

आर्थिक अपराध इकाई के मुताबिक संजय प्रसाद के खिलाफ जो कार्यवाही की गई, उसमें आय से अधिक 24 लाख से ज्यादा की संपत्ति अर्जित करने का आरोप है. मंगलवार को मुजफ्फरपुर बेतिया समेत अन्य जगहों पर ईओयू ने छापेमारी की थी और इसके बाद दरोगा संजय प्रसाद के सभी बैंक खातों को फ्रीज कर दिया गया.
29 महीने तक संजय प्रसाद ने बगैर सैलरी के कैसे काम चलाया. यह बताता है कि उनकी आय का स्रोत क्या था.

यह भी पढ़ें- बिहार विधानसभा उपचुनाव: करीब छ: साल बाद चुनाव प्रचार में उतरेंगे लालू, दोनों सीटों पर करेंगे रैली

Show More

Related Articles