बोकारो में नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म के आरोप में स्थानीय लोगों ने किया सड़क जाम, सदन में भी उठा मामला

पीड़िता की मां ने कहा, पुलिस ने की जबरन दस्तखत कराने की कोशिश

बोकारो : बोकारो में  नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म के आरोप में गुरुवार को स्थानीय लोगों ने सड़क जाम कर दिया है। इस मामले में लोगों ने दो नावालिग युवकों को संदिग्ध स्थिति में पकड़ कर पुलिस के हवाले किया है। जानकारी के अनुसार कक्षा दसवीं की छात्रा है। स्थानीय लोगों ने दावा किया कि लड़की के साथ दोनों आरोपियों ने दुष्कर्म किया। इसके बाद वे इसे सड़क किनारे छोड़कर भाग रहे थे। मामले की जानकारी मिलने के बाद गिरिडीह के सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी बोकारो सदर अस्पताल पहुंचे। पीड़ित छात्रा से बात की। पुलिस पर मामले को दबाने का आरोप लगाते हुए उन्होंने अस्पताल परिसर में ही धरना दिया। इधर, बोकोरो जिला के पेटरवार स्थित बुंडू पंचायत में देर रात हुए बलात्कार का मामला विधानसभा में भी गरमाया। विधायक लंबोदर महतो विधानसभा के मुख्य द्वार पर धरने पर बैठ गए। विधायक का आरोप है कि नौ मार्च को बोकारो जिला के पेटरवार थाना क्षेत्र में दलित बच्ची के साथ हुए सामूहिक बलात्कार के घटना घटी। जिला प्रशासन मामले की लीपापोती करने में जुटा है। विधानसभा की कार्यवाही शुरू होते ही लंबोदर महतो ने मामले को सदन में उठाया। उनका साथ हजारीबाग के विधायक मनीष जायसवाल ने दिया। दोनों विधायकों ने मांग की मामले में फास्ट ट्रैक का गठन हो और दोषी पाए जाने के बाद आरोपियों को फांसी की सजा दी जाए।

पीड़िता की मां ने कहा, पुलिस ने की जबरन दस्तखत कराने की कोशिश

घटना को लेकर नाबालिग की मां ने बताया कि स्कूल में छुट्टी होने के घंटो बाद जब बेटी घर नही पहुंची तब जाकर देखा तो वहां ताला लगा था। बेटी के दोस्त से पूछताछ करने पर पता चला कि स्कूल नहीं पहुंची थी। इसके बाद मामले को लेकर नाबालिग के पिता थाना पहुंचे। इसी बीच सूचना मिली कि बाजारटांड़ के नजदीक सुमित के दुकान के नजदीक बेटी बेहोशी की हालत में है। वहां से हॉस्पीटल ले जाया गया, जहां नर्सो ने बताया कि नाबालिग के साथ दुष्कर्म हुई है। हॉस्पीटल के डॉक्टरो ने सदर हॉस्पीटल रेफर कर दिया। सदर हॉस्पीटल में बच्ची को थोड़ा होश आया तो उसने बताया कि उसके साथ शारीरिक संबंध बनाया गया। नाबालिग की मां ने कहा सदर हॉस्पीटल में मौजूद पुलिसकर्मी ने पति से कागज पर जबरन हस्ताक्षर करने को कहा। नही करने पर मोबाइल फेक देने की धमकी दी। इसके बाद नाबालिग के मां को भी जबरन हस्ताक्षर करने के लिए कहा गया। नाबालिग की मां ने पुलिस पर गुमराह करने का आरोप लगाया है।

आक्रोशित लोगों ने किया सड़क जाम

पेटरवार क्षेत्र में नाबालिग से दुष्कर्म की सूचना मिलने के बाद स्थानीय लोग आक्रोशित हो गए। स्थानीय लोग मामले को लेकर पेटरवार चौक को करीब घंटे से जाम कर दिया। टायर जलाकर आगजनी की। जिसके कारण बोकारो-तेनुघाट जानेवाली मुख्य सड़क के दोनों किनारे वाहनों की लंबी कतारे लग गई। स्थानीय लोगों का आरोप है पुलिस घटना पर गंभीरता दिखाने के बदले मामले को दबाने में जुटी है। परिजनों पर दबाब बनाया जा रहा है।

Show More

Related Articles