महिला का मनोबल बढ़ाना महिला के लिए सम्मान है : डॉ. आशा लकड़ा

महिला एक कुशल प्रबंधक के साथ ही साथ कार्य के लिए समर्पित है : डॉ. कामिनी कुमार

रांची : रांची विश्वविद्यालय की इंटरनल कमेटी (महिला कोषांग) एवं एनएसएस के संयुक्त तत्वावधान में मंगलवार को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर संवाद, पुरस्कार वितरण, महिला हेल्प लाइन नंबर जारी एवं जागरूकता रैली आयोजित की गई। जिसकी अध्यक्षता रांची विश्वविद्यालय की कुलपति डॉ. कामिनी कुमार ने की। समारोह की मुख्य अतिथि रांची की महापौर डॉ. आशा लकड़ा ने अपने संबोधन में कहा कि समाज में महिलाओं का मनोबल बढ़ाना महिला के लिए सम्मान की बात है। उन्होंने कहा कि देश की आजादी का आज हम अमृत महोत्सव आयोजित कर रहें है एवं आजादी के लिए किए गए आंदोलनों में महिलाओं की उचित  एवं प्रभावी भागीदारी रही है। उन्होंने कहा कि आज शहर हो या हो गांव, सभी जगहों पर महिलाएं सभी क्षेत्रों में सराहनीय कार्य कर रही हैं एवं पुरुषों की बराबरी करते हुए अपना योगदान दे रही है।

अपने अध्यक्षीय संबोधन में कुलपति डॉ. कामिनी कुमार ने कहा कि महिला एक कुशल प्रबंधक के साथ-साथ कार्य के लिए समर्पित है। आज महिलाएं अपने कार्य क्षेत्र में अपने कर्तव्यों से अलग पहचान बना रही है और अपने सपनों का उड़ान भर रही है। उन्होंने कहा कि अभी भी समाज में महिलाओं के प्रति नजरिया में बदलाव में कमी है, लेकिन सकारात्मक बदलाव के लिए समाज में वातावरण निर्मित हो रहें हैं। उन्होंने कहा एक महिला बेटी, बहन, माँ और पत्नी के रूप में अपने कार्यों के बल पर अपना स्थान बना रही है। आज आवश्यकता है उसे सहज रूप से समर्थन करने का। महापौर डॉ. आशा लकड़ा और कुलपति डॉ. कामिनी कुमार ने रांची विश्वविद्यालय का महिला हेल्पलाइन नंबर 18003457064 जारी करते हुए कहा कि अब कही भी किसी छात्राएं असहज महसूस करती है तो उक्त हेल्पलाइन नंबर पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकतीं हैं तथा उसपर त्वरित कार्यवाही की जाएगी। कार्यक्रम में भाषण एवं पोस्टर मेकिंग में सफल प्रतिभागियों को पुरस्कृत भी किया गया। रांची विश्वविद्यालय की परफार्मिंग एंड फाइन आर्ट्स विभाग की छात्राओं ने महिला विषय पर सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति दी, जिसका कोरोइग्राफी विपुल नायक द्वारा किया गया। समारोह में स्वागत भाषण डीन, विज्ञान सह पीठासीन पदाधिकारी डॉ. कुनुल कंदिर ने किया। समारोह को रांची विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ. मुकुंद चंद्र मेहता, डीएस डब्ल्यू डॉ. राजकुमार शर्मा ने भी संबोधित किया। समारोह का संचालन इंटरनल कमेटी की सदस्य सचिव डॉ. स्मृति सिंह ने किया और धन्यवाद ज्ञापन डॉ. मीना सहाय ने किया। इस वर्ष के अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस का थीम “एक स्थायी कल के लिए आज की लैंगिक समानता” विषय को लेकर आरयूके बेसिक साइंस बिल्डिंग परिसर से जागरूकता रैली निकाली गई, जिसे महापौर एवं कुलपति ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। आरयू की इंटरनल कमेटी की सदस्य सचिव डॉ. स्मृति सिंह ने बताया कि जागरूकता रैली बेसिक साइंस बिल्डिंग परिसर से निकलकर डीएसपीएमयू, केंद्रीय पुस्तकालय, राजकीय अतिथिशाला, रेडक्रॉस, बापू वाटिका होते हुए पुनः बेसिक साइंस बिल्डिंग परिसर में समाप्त हो गया। रैली में रांची विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ. मुकुंद चंद्र मेहता, डीएसडब्ल्यू डॉ. राजकुमार शर्मा, डीन साइंस डॉ. कुनुल कंदिर, डॉ. मीना सहाय, डीन कॉमर्स डॉ. सुदेश कुमार साहू, डॉ. अनिता मेहता, डॉ. इंदिरा पाठक, डॉ. आशा दुबे, डॉ. श्वेता नाग, एनएसएस कार्यक्रम समन्वयक डॉ. ब्रजेश कुमार सहित कई प्राध्यापकों एवं सैकड़ो छात्र-छात्राएं शामिल हुई।

Show More

Related Articles