कुशलक्षेम के साथ लोगों से यह भी पूछिए कि आपने सपरिवार टीका लगवाया या नहीं : बाबूलाल मरांडी

राष्ट्रीय स्वयंसेवक अभियान के तहत झारखंड भाजपा ने गुरुवार को पार्टी के प्रदेश कार्यालय से बूस्टर डोज जागरण अभियान का शुभारंभ किया।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक अभियान के तहत झारखंड भाजपा ने गुरुवार को पार्टी के प्रदेश कार्यालय से बूस्टर डोज जागरण अभियान का शुभारंभ किया। सर्वप्रथम वंदे मातरम् गीत और फिर महापुरुषों की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर कार्यक्रम प्रारंभ किया गया। पूर्व मुख्यमंत्री सह पार्टी के विधायक दल के नेता श्री बाबूलाल मरांडी और अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अनवर हयात को बूस्टर डोज का टीका लगाकर अभियान की विधिवत् शुरुआत की गई। इस मौके पर बाबूलाल मरांडी के अलावा अभियान की संयोजक सह प्रदेश उपाध्यक्ष गंगोत्री कुजूर, सह संयोजक सरोज सिंह, सदस्य राजीव कुमार उपस्थित थे। वहीं मौके पर सदर अस्पताल के चिकित्सा पदाधिकारी Dr. विकास गुप्ता जी और उनकी टीम भी मौजूद रही।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बाबूलाल मरांडी ने कहा कि टीकाकरण के पहले, दूसरे या बूस्टर डोज के जो भी मापदंड तय किए गए हैं और उस मापदंड की जो भी पात्रता रखते हैं उन तमाम लोगों का टीकाकरण सुनिश्चित कराना हम सभी की जिम्मेवारी है। शुरुआती दिनों में हर अभियान को लेकर कुछ भ्रांतियां रहती है, लिहाजा इसको लेकर भी रहीं परंतु अब सारी भ्रांतियां दूर हो चुकी है। भारत जैसे विविधत्ताओं से भरे देश में 163 करोड़ से अधिक लोगों का टीकाकरण होना एक बड़ी उपलब्धि है। कल्पना कीजिए अगर केंद्र की मोदी सरकार ने कुशलतापूर्वक इतने व्यापक पैमाने पर टीकाकरण अभियान नहीं चलाया होता तो स्थिति कितनी भयावह होती। बीजेपी कार्यकर्ताओं ने भी केंद्र की अभियान के साथ जिस तेजी से अपने आप को जोड़ा, वह भी सराहनीय है। सम्पूर्ण टीकाकरण की शुरुआत अपने से, अपने परिजनों से, दोस्तों से, शुभचिंतकों से करने की जरूरत है। इससे लोगों को प्रेरित करना और लक्ष्य प्राप्त करना सहज हो जाएगा। झारखंड में टीकाकरण की धीमी गति चिंताजनक है। इस लिहाज से हम सभी की जिम्मेवारी और बढ़ जाती है।
श्री मरांडी ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि हम अपने लोगों से, रिश्तेदारों से कुशलक्षेम पूछते हैं कि आप कैसे हैं। इसके साथ एक बात और जोड़ दीजिए कि आपने कोरोना का टीका लगवाया या नहीं। ऐसा करने से एक माहौल बन जायेगा और हम अपने लक्ष्य में जल्दी सफल हो जायेंगे। कोरोना अभी पूरी तरह खत्म नहीं हुआ है। सजगता ही बचाव है। सभी लोग अपनी जिम्मेवारी निभायेंगे तभी यह अभियान पूर्णत: सफल हो पाएगा। सम्पूर्ण टीकाकरण से ही झारखंड सुरक्षित होगा।

कार्यक्रम को प्रदेश उपाध्यक्ष एवम संयोजक गंगोत्री कुजूर ने भी संबोधित किया।

Show More

Related Articles