पटना: मुखिया प्रत्याशी के डीजे को जब्त करने गई पुलिस-ग्रामीणों में झड़प, फायरिंग में युवक की मौत

पटना जिले के धनरूआ के मोरियावां गांव में मुखिया प्रत्याशी के प्रचार गाड़ी पर लगे डीजे को जब्त करने गई पुलिस और ग्रामीणों में झड़प में गई.

 

पटना जिले के धनरूआ के मोरियावां गांव में मुखिया प्रत्याशी के प्रचार गाड़ी पर लगे डीजे को जब्त करने गई पुलिस और ग्रामीणों में झड़प में गई. इस दौरान करीब 50 राउंड गोली चली, जिसमें 25 वर्षीय युवक की मौत हो गई. मृतक की पहचान स्थानीय धूलखेली चौधरी के पुत्र रोहित कुमार के रूप में हुई है. हुई फायरिंग में तीन अन्य लोगों को भी गोली लगी है, जो कि गंभीर रूप से घायल हैं. ग्रामीणों का आरोप है कि इन चारों को पुलिस की गोली लगी है.
दूसरी ओर, ग्रामीणों की तरफ से हुए पथराव में मसौढ़ी के इंस्पेक्टर राम कुमार, धनरूआ थानाध्यक्ष राजू कुमार समेत एक दर्जन से अधिक पुलिसकर्मी घायल हो गये. सूचना मिलने पर सिटी एसपी (पूर्वी) जीतेंद्र कुमार बड़ी संख्या में पुलिस बल के साथ पहुंचे और स्थिति नियंत्रित की. हालांकि, इलाके में अब भी तनाव है. पूरे इलाके को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है.

बताया जाता है कि चुनाव प्रचार के आखिरी दिन शुक्रवार की शाम मोरियावां मुशहरी में पुलिस गश्ती के लिए निकली थी. इसी बीच पुलिस को मोरियावां गांव में मुखिया सुरेंद्र साव की प्रचार गाड़ी उनके घर के पास मिल गयी. गाड़ी पर डीजे बज रहा था और समर्थक डांस कर रहे थे. पुलिस ने प्रचार की समय अवधि खत्म होने का हवाला देते हुए डीजे को जब्त कर लिया. इसी को लेकर ग्रामीणों और पुलिस के बीच विवाद हो गया और मामला यहां तक पहुंच गया.

यह भी पढ़ें- मुजफ्फरपुर: नशे की दवा खिलाकर महिला बैंककर्मी से उसके सहकर्मी ने किया बलात्कार, केस दर्ज

Show More

Related Articles