नालंदा: भागनबीघा थाना क्षेत्र के पुल के नीचे दिव्यांग युवक का शव मिलने से इलाके में सनसनी

नालंदा जिले के भागनबीघा थाना क्षेत्र के पास बने पुल के नीचे एक दिव्यांग युवक का शव मिलने से इलाके में सनसनी मच गई। शव मिलने की सूचना पर आस पास के भारी संख्या में लोग इकट्ठा हो गए ।

नालंदा जिले के भागनबीघा थाना क्षेत्र के पास बने पुल के नीचे एक दिव्यांग युवक का शव मिलने से इलाके में सनसनी मच गई। शव मिलने की सूचना पर आस पास के भारी संख्या में लोग इकट्ठा हो गए । मृतक की पहचान मिल्कीपर गांव के उपेंद्र यादव का पुत्र भागीरथ यादव के रूप में की गई है। घटना के संबंध में मृतक के पिता ने बताया कि पूर्व में मोबाइल चोरी को लेकर अपने ही गोतिया के बीच विवाद हुआ था। इस विवाद को लेकर अपने ही गोतिया के द्वारा भागीरथ यादव के ऊपर जानलेवा हमला किया गया था। जिसमें भागीरथ यादव को गंभीर चोट आई थी। भगीरथ यादव के ऊपर हुए हमले को लेकर परिजनों ने भागनविघा थाना में मामला दर्ज कराया था। जिसके बाद पुलिस ने पटन यादव और मेघन यादव को हत्या के प्रयास में गिरफ्तार कर जेल भी भेज दिया। इसी मामले को खत्म करने के लिए लगातार गोतिया संतोष यादव और फरेश यादव के द्वारा दबाव बनाया जा रहा था। कई बार उनलोगों ने अंजाम भुगतने की भी धमकी दी थी। परिजनों का आरोप है कि ईट पत्थर से कुचल कर उसकी निर्मम हत्या कर शव को पुल के नीचे फेंक दिया। वह शनिवार की शाम बाजार से कुछ सामान लाने के लिए घर से निकला था जिसके बाद वह घर नहीं लौटा । परिजन के द्वारा खोजबीन की गई लेकिन इससे कुछ घंटों बाद ही उसका शव बरामद किया गया।

Show More

Related Articles