मधुबनी: युवा पत्रकार अविनाश झा की अधजली लाश बरामद, भाई का आरोप- अस्पताल के खिलाफ खबर लिखने की मिली सजा

बिहार के मधुबनी जिले के युवा पत्रकार व आरटीआई कार्यकर्ता बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा का अधजला शव शुक्रवार की देर रात बरामद किया गया.

 

बिहार के मधुबनी जिले के युवा पत्रकार व आरटीआई कार्यकर्ता बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा का अधजला शव शुक्रवार की देर रात बरामद किया गया. सोशल मीडिया के युवा पत्रकार अविनाश झा करीब चार दिनों से लापता थे.

पत्रकार की हत्या के बाद उनके भाई सामने आये और उन्होंने बड़ा खुलासा करते हुए बताया कि चार दिन पहले ही गायब होने की उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी. बताया था कि उनका भाई वर्षों से बेनीपट्टी में चले रहे फर्जी नर्सिंग होम पर कार्रवाई के लिए कागजी प्रक्रिया कर रहा था. उन्होंने आरोप लगाया है कि एक साजिश के तहत भाई को गायब किया गया था.
अविनाश की हत्या के पीछे बड़े और ताकतवर लोगों का हाथ होने की आशंका जताई जा रही है. अविनाश की पहचान एक ऐसे युवा पत्रकार के तौर पर रही जो सोशल मीडिया के जरिए मेडिकल माफिया के खिलाफ लगातार खुलासे कर रहा था.

बता दें कि बेनीपट्टी में संचालित प्राइवेट अस्पतालों की कमियों को अविनाश समय-समय पर उजागर करते रहे थे. वह पत्रकार के साथ-साथ सोशल एक्टिविस्ट भी थे. लोक शिकायत निवारण अधिनियम के तहत उन्होंने इन फर्जी क्लीनिक की शिकायत की थी, जिन पर कार्रवाई हुई थी. परिवार ने इन्हीं फर्जी क्लीनिक के संचालकों पर हत्या के आरोप लगाए हैं.पुलिस अब मामले की जांच में जुट गई है. पुलिस के मुताबिक अपराधी जल्द ही उसकी गिरफ्त में होंगे.

यह भी पढ़ें- पंचायत चुनाव कराने की मांग को लेकर भाजपा करेगी आंदोलन: दीपक प्रकाश

Show More

Related Articles