खगड़िया: मानसी थाना में फर्जी दारोगा बन एक महीने तक करता रहा काम, हुआ गिरफ्तार

बिहार के खगड़िया जिले से एक अजीबोगरीब खबर सामने आ रही है जहां स्थानीय थाने में एक युवक करीब महीने भर फर्जी दारोगा बन काम करता रहा

 

बिहार के खगड़िया जिले से एक अजीबोगरीब खबर सामने आ रही है जहां स्थानीय थाने में एक युवक करीब महीने भर फर्जी दारोगा बन काम करता रहा. आखिरकार सोमवार को वह फर्जी दारोगा पुलिस की गिरफ्त में आया.
बताया जाता है कि विक्रम कुमार गत अगस्त के महीने में ही मानसी थाना में अपना योगदान दिया था. जांच में पाया गया कि उसके पदस्थापन व प्रतिनियुक्ति को लेकर योगदान को लेकर कोई आदेश व निर्देश मानसी थानाध्यक्ष को नहीं दिया गया था.
गौरतलब है कि गत सात जुलाई को विधिवत जिलादेश के साथ मानसी थाना में चार पुलिस पदाधिकारियों ने योगदान किया. जिसमें विक्रम का नाम नहीं था. मानसी थानाध्यक्ष दीपक कुमार ने इस मामले में विक्रम के विरुद्ध कांड संख्या 295/2021 के तहत केस दर्ज कराया है. आरोपी बेगूसराय जिले के भगवानपुर प्रखंड अंतर्गत सतराजेपुर गांव निवासी रामचन्द्र सहनी का पुत्र बताया जा रहा है. इस मामले में गोगरी के आरटीआई कार्यकर्ता मनोज कुमार मिश्रा ने गत 26 अक्टूबर को एसपी को आवेदन देकर फर्जी दारोगा के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की थी. जिसमें उन्होंने पुलिस की वर्दी पहनकर लाखों रुपये कथित वसूली का आरोप लगाया था.
आरटीआई कार्यकर्ता के आरोपी की जांच के दौरान दारोगा फर्जी निकला. जिसके बाद मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया गया.

यह भी पढ़ें- आज का राशिफल- जानिए कैसा रहेगा आपका दिन

Show More

Related Articles