दरभंगा: पार्ट 3 रिजल्ट में गड़बड़ी के खिलाफ मिथिला स्टूडेंट यूनियन का भूख हड़ताल फिर से शुरू

मिथिला स्टूडेंट यूनियन की ओर से पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ पार्ट 3 रिजल्ट में गड़बड़ी को लेकर विश्वविद्यालय में जोरदार प्रदर्शन किया और विश्वविद्यालय परिसर में ही आमरण भूख हड़ताल पर बैठ गए हैं.

मिथिला स्टूडेंट यूनियन की ओर से पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ पार्ट 3 रिजल्ट में गड़बड़ी को लेकर विश्वविद्यालय में जोरदार प्रदर्शन किया और विश्वविद्यालय परिसर में ही आमरण भूख हड़ताल पर बैठ गए हैं. एमएसयू के छात्र नेता विश्वविद्यालय सचिव अभिषेक कुमार झा के नेतृत्व में आंदोलन विश्वविद्यालय परिसर में शुरू किया छात्र नेता अमन सक्सेना दिवाकर मिश्रा जय प्रकाश झा व सुमित माऊबेहटिया ने कहा विश्वविद्यालय प्रशासन छात्र आंदोलन को मज़ाक में ले रहा हैं विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक और प्रॉक्टर झूठ बोलते हैं पिछली बार रिजल्ट ख़राब को लेकर जब हमलोग भूख हड़ताल पर बैठने ही वाले थे की विश्वविद्यालय प्रसासन खाकी वर्दी का सहारा लेकर हमारा माइक साउंड उठा कर ले गए और छात्रों से अभद्र व्यवहार करने लगे लाठी डंडा और बन्दुक का सहारा लेकर निहथे छात्रों को डराया धमकाया जाने लगा. इस बीच एमएसयू के समर्थन में जुटे छात्रों ने पुलिस के इस हरकत पर आंदोलन को और उग्र दिया और पुलिस प्रशासन के आगे जोरदार नारेबाजी करने लगे विश्वविद्यालय प्रशासन छात्रों से धक्का मुक्की करने लगे जिसके बाद सभी छात्र नारेबाजी करते हुए विश्वविद्यालय धरनास्थल पर पहुंच अपने आंदोलन को शुरू कर दिया और विश्वविद्यालय प्रशासन और थाना के खिलाफ जमकर नारेबाजी शुरू कर दिया और सभा विश्वविद्यालय धरनास्थल पर शुरू कर दिया गया इस आंदोलन में सेकड़ो छात्रों ने भाग लिया और जमकर धरणा प्रदर्शन किया छात्रों से वार्ता करने के लिए एक भी पदाधिकारी नहीं पहुंचे विश्वविद्यालय प्रशासन खाकी वर्दी के दम पर छात्र आंदोलन को दबाना चाहता हैं जो इनको मंशा कभी पूरा नहीं होने वाला हैं हमलोग लड़ने आए झुकने और डरने के लिए नहीं संगठन के विश्वविद्यालय कॉलेज प्रभारी अनीश चौधरी कोषाध्यक्ष नारायण मिश्रा ने छात्रों को सम्भोधित करते हुए कहा मिथिला विश्वविद्यालय का भी एक भी कॉलेज का एक भी कॉलेज डिग्री देने लायक़ नहीं हैं ऐसे में विश्वविद्यालय को कोई भी अधिकार नहीं हैं की छात्रों को फ़ैल किया जाए जब छात्रों को शिक्षा ही नहीं मिलेगा तो कॉपी में कैसे लिखेंगे यह सवाल हम यहाँ के कुलपति कुलसचिव और परीक्षा नियंत्रक से पूछ रहे हैं कोई भी कॉलेज में प्रोफेसर पढ़ा रहे हैं क्या किसी कॉलेज डिपार्टमेंट में कोर्स कम्पलीट नहीं किया जाता हैं मिथिला विश्वविद्यालय डिग्री बांटने का एक विश्वविद्यालय हैं यहाँ शिक्षा नहीं डिग्री मिलता हैं यह सभी जानते हैं फिर डिग्री भी सही से क्यू नहीं दिया जा रहा हैं हमारी मांग हैं की जो भी छात्र अपने नंबर से असंतुष्ट हैं उनके कॉपी का पुनः जाँच किया जाए जिस भी छात्रों का रिजल्ट फ़ैल किया गया हैं उसको कोरोना को देखते हुए पास किया जाए बिना शिक्षा फ़ैल करने का अधिकार मिथिला स्टूडेंट यूनियन इस विश्वविद्यालय को नहीं देगा पहले शिक्षा फिर रिजल्ट फ़ैल किया जाए नहीं तो हम लोग ऐसे ही बैठे रहेंगे छात्र दरभंगा समस्तीपुर बेगूसराय मधुबनी के दूर सुदूर गाँव से विश्वविद्यालय आंदोलन में पहुंचे छात्रों ने कहा विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक और प्रॉक्टर कुलपति और कुलसचिव के इसारा पर झूठ बोलते हैं कहा गया था कोरोना को देखते हुए सभी को पास किया जाए आपलोग भूख हड़ताल समाप्त कीजिये जिसका वीडियो भी सभी छात्रों के पास मौजूद हैं लेकिन विश्वविद्यालय प्रशासन ने छात्रों के साथ वादाखिलाफी किया हैं झूठ बोलकर छात्र आंदोलन को समाप्त करवा दिया गया जिसके विरोध में आज सोमवार को फिर से मिथिला स्टूडेंट यूनियन के सेनानी आंदोलन पर बैठ गए जब तक मांगे पूरा नहीं होगा तब तक हमलोगो का आंदोलन जारी रहेगा भूख हड़ताल पर एमएसयू के दिवाकर मिश्रा छात्र विष्णु कुमार शर्मा श्रुति कुमारी सोनाली कुमारी अनुष्का राय और सरोज कुमार बैठे हुए हैं.

मौके पर एमएसयू के नीरज भारद्वाज उज्ज्वल कुमार मिश्रा गुलफाम रहमानी उदय नारायण झा अभय झा डब्लू गुरुशरण राजू कुमार मोहम्मद शहवाज विशाल कुमार आदर्श कुमार जूही स्वाति निधि ऋतू सिंह मीनाक्षी कुमारी चन्दन अफसल हुसैन अंकित सिंह कौशल आदर्श कुमार शशि सिंह संजय ललित कुमार यादव गौतम कुमार पिंकेश कुमार ऋषभ कुमार आदि छात्र मौजूद रहे ।

Show More

Related Articles