छपरा: मृतकों की संख्या पहुंची 15 तक, परिजनों का दावा जहरीली शराब पीने से हुई है मौत

बिहार के छपरा में कथित जहरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या 15 तक पहुंच गई है. चौथे दिन भी प्रशासन मौत के कारण का पता नहीं लगा पाई है.

बिहार के छपरा में कथित जहरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या 15 तक पहुंच गई है. चौथे दिन भी प्रशासन मौत के कारण का पता नहीं लगा पाई है. हालांकि परिजनों का दावा है कि जहरीली शराब ही लोगों के मौत की वजह बनी है.
आपको बता दें इस मामले में प्रशासन ने कार्रवाई करते हुए मकेर के थानाध्यक्ष राजेश्वर प्रसाद को निलंबित कर दिया गया है. वहीं, शराब के धंधेबाजों से सांठ-गांठ करने के आरोप में चौकीदार गणेश मांझी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है. अमनौर थाना प्रभारी सुजीत कुमार चौधरी ने इस मामले में मकेर थाने में चार नामजद तथा अज्ञात के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करायी है.
गौरतलब है कि मृतकों के परिजनों ने शराब से मौत का दावा किया तो डीएम राजेश मीणा तथा एसपी संतोष कुमार ने संयुक्त रूप से मकेर और अमनौर प्रखंड के जगदीशपुर जनता बाजार सहित अन्य प्रभावित गांवों में पूछताछ के बाद शराब से मौत को भी एक पक्ष मानते हुए इस पहलू पर भी जांच शुरू कर दी है.

Show More

Related Articles