भागलपुर ब्लास्ट के बाद जागी पुलिस, एक गोदाम से भारी में अवैध पटाखा किया जब्त

भागलपुर में हुए दर्दनाक ब्लास्ट की घटना के बाद भागलपुर पुलिस अब अलर्ट मोड में आ गई है

भागलपुर में हुए दर्दनाक ब्लास्ट की घटना के बाद भागलपुर पुलिस अब अलर्ट मोड में आ गई है| ऐसी घटना भविष्य में फिर कभी घटित ना हो इसके लिए पटाखे के अवैध निर्माण, भंडारण और अवैध कारोबार के खिलाफ बड़े पैमाने पर छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है| इसी कड़ी में सिटी डीएसपी प्रकाश कुमार और हबीबपुर थानेदार कृपा सागर के नेतृत्व में गठित विशेष पुलिस टीम ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए भारी मात्रा में पटाखा बरामद किया है| वहीं इस संबंध में सिटी एसपी सवर्ण प्रभात ने बताया कि हबीबपुर थाना क्षेत्र में बायपास के नजदीक सरदारपुर में गौशाला कि जमीन पर अवस्थित एक ट्रांसपोर्ट के दोनों गोदामों में अवैध रूप से भंडारण किए गए करीब 1800 कार्टून पटाखा को बरामद किया गया है| सिटी एसपी ने कहा कि दोपहर में लगभग 12 बजे मां अन्नपूर्णा ट्रांसपोर्ट एजेंसी के उक्त दोनों गोदाम में पटाखा के अवैध भंडारण की गोपनीय जानकारी मिली थी| जिसके बाद यह कार्रवाई की गई है| उन्होंने कहा कि यह गोदाम राजस्थान के रहने वाले पवन रजगरिया का है| वहीं उसका कार्यालय कलकत्ता में है| सिटी एसपी की मानें तो तमिलनाडु के शिवकाशी से यह पटाखा मंगवाया गया था और प्रत्येक महीना 7-8 ट्रक पटाखा यहां मंगवाया जाता है| वहीं पिछले दो दिनों से पटाखे को विभिन्न स्थानों पर भेजा भी जा रहा था| इस पूरे कारोबार में चुनिहरी टोला निवासी प्रदीप मंडाविया और और विकास मंडाविया मुख्य रूप से संलिप्त था| सिटी एसपी ने कहा कि अवैध पटाखा का कारोबार करने के आरोप में कोतवाली थाना क्षेत्र के भेरायटी चौक के पास विकास स्टोर और प्रदीप स्टोर को चिन्हित किया गया है| सिटी एसपी ने बताया कि इस ट्रांसपोर्ट का संचालन पटना के विनय सिंह और राजस्थान के महेंद्र सिंह के द्वारा किया जा रहा था| वहीं पुलिस द्वारा तुलसी ब्रांड का रॉकेट और बम, शिवकाशी का मुर्गा छाप क्रैकर्स, तुलसी छाप, मुर्गा छाप, और शिवकाशी के राज फायरवर्क्स का पटाखा बरामद किया गया है|

Show More

Related Articles