चारा घोटाला मामला : 28 फरवरी तक हाईकोर्ट में दाखिल होगी अपील याचिका

चारा घोटाला मामले में हाईकोर्ट ने जमानत के लिए एक नियम तय किया है

रांची : चारा घोटाला मामले में हाईकोर्ट ने जमानत के लिए एक नियम तय किया है। इसके अनुसार निचली अदालत से सजा की आधी अवधि जेल में रहने के बाद ही जमानत दी जाएगी। इसके आधार पर लालू यादव को जल्द ही जमानत मिल सकती है। उनके अधिवक्ता देवर्षि मंडल ने बताया कि सीबीआइ कोर्ट के सत्यापित आदेश की प्रति मिलने के बाद 28 फरवरी तक हाईकोर्ट में एलसीआर (लोअर कोर्ट रिकॉर्ड) मंगाएगा। इसके बाद जमानत पर सुनवाई होगी। इसमें करीब डेढ़ माह का समय लग सकता है। बताते चलें कि लालू प्रसाद को पांचवें मामले में पांच साल की सजा हुई है। उनकी ओर से उम्र और बीमारी का हवाला देते हुए कम से कम सजा दिए जाने की मांग की गई थी। अब इसके खिलाफ हाईकोर्ट में अपील दाखिल कर जमानत देने की गुहार लगाई जाएगी। इस प्रक्रिया में करीब एक से डेढ़ माह लग सकता है। उसके बाद लालू प्रसाद जेल से बाहर आ सकते हैं। वैसे लालू प्रसाद ने अबतक साढ़े तीन साल जेल में बिताएं हैं। इसी आधार पर उन्हें हाईकोर्ट से जमानत मिली है। दुमका कोषागार मामले में उन्हें अधिकतम सात साल की सजा मिली थी। हाईकोर्ट में जमानत पर सुनवाई के दौरान कोर्ट ने इसकी रिपोर्ट मांगी थी कि इस मामले में लालू प्रसाद कितने दिनों तक जेल में रहे हैं। जब उनकी ओर से जेल में साढ़े तीन साल तक रहने का दस्तावेज कोर्ट में पेश किया गया तब जाकर कोर्ट ने उन्हें आधी सजा के आधार पर जमानत की सुविधा प्रदान की है।

Show More

Related Articles