बिहार: मुसीबत में फंस गए हैं तेजप्रताप यादव, जानिए क्या है वजह

लालू प्रसाद यादव के बड़े पुत्र बिहार सरकार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव बड़ी मुसीबत में फंस गए हैं. तेजप्रताप यादव के खिलाफ कोर्ट में मामला दर्ज कराया गया है.

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े पुत्र बिहार सरकार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव बड़ी मुसीबत में फंस गए हैं. तेजप्रताप यादव के खिलाफ कोर्ट में मामला दर्ज कराया गया है.
खबरों के मुताबिक, समस्तीपुर के रोसड़ा थाना में एफआईआर दर्ज कराई गई है. तेजप्रताप यादव पर 2020 में हुए बिहार विधानसभा चुनाव में गलत शपथ पत्र देने और अपनी संपत्ति छिपाने का आरोप लगा है. चुनाव आयोग के निर्देश पर ये एफआईआर दर्ज करायी गयी है.
मालूम हो कि तेजप्रताप यादव समस्तीपुर के हसनपुर विधानसभा सीट से विधायक हैं. निर्वाची पदाधिकारी ने थाने में दर्ज करायी प्राथमिकी में कहा है कि 2020 के विधानसभा चुनाव के सेकेंड फेज में तेजप्रताप यादव ने 13 अक्टूबर 2020 को 140 हसनपुर विधानसभा क्षेत्र से राष्ट्रीय जनता दल के उम्मीदवार के तौर पर नामांकन पत्र दाखिल किया था. नामांकन के दौरान तेज प्रताप यादव ने शपथ पत्र देकर अपनी संपत्ति का ब्योरा दिया था. तेजप्रताप यादव द्वारा शपथ पत्र में दिया गया संपत्ति का ब्योरा गलत निकला है.

Show More

Related Articles