बिहार: NTPC छात्रों के समर्थन में उतरे पूर्व सीएम जीतनराम मांझी, खान सर पर भी कही यह बात

पिछले तीन दिनों से बिहार के अलग-अलग जगहों पर NTPC के छात्र रेलवे बोर्ड के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं.

पिछले तीन दिनों से बिहार के अलग-अलग जगहों पर NTPC के छात्र रेलवे बोर्ड के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. इस दौरान छात्रों ने रेलवे स्टेशनों पर सरकारी संपत्ति को भी नुकसान पहुंचाया है.
जिसके बाद प्रशासन ने कोचिंग संचालकों पर भी एफआइआर दर्ज किया है. दर्ज एफआइआर का कई राजनेता विरोध कर रहे हैं. जहां राजद नेता ने मांग की है कि पुलिस को शिक्षकों की जगह रेलवे भर्ती बोर्ड के अधिकारियों पर मुकदमा दर्ज करना चाहिए. साथ ही पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने भी इस कार्रवाई का विरोध किया है. उन्‍होंने कहा है कि सरकार रोजगार के विषय में बात करे, वरना हालात और भयानक हो सकते हैं.
पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने ट्विटर पर लिखा है कि सविधान में हिंसा तोड़फोड़ का आधिकार किसी को नहीं वैसे अब वक्त आ गया है जब सरकार रोजगार के विषय में बात करे नही तो हालात इससे भी भयानक उत्पन्न हो सकते है. RRB NTPC उपद्रव केनाम पर खान सर सहित शिक्षकों पर किए गए मुकदमें इस अघोषित युवा आन्दोलन को और भी ज्यादा भड़का सकता है.

Show More

Related Articles