राज्‍य योजना के शिलान्‍यास-उद्घाटन में शामिल नहीं किए जाएंगे एमपी

आजसू पार्टी नए आदेश का विरोध करेगी

रांची : झारखंड सरकार के एक और निर्णय पर तकरार शुरू होनेवाला है। केंद्र व राज्य की योजनाओं के उद्घाटन व शिलान्यास को लेकर झारखंड सरकार के मंत्रिमंडल सचिवालय विभाग ने नया दिशा-निर्देश जारी किया है। इसके मुताबिक अब सरकार की योजनाओं के शिलान्यास और उद्घाटन समारोहों में स्थानीय सांसद शामिल नहीं किए जाएंगे। नए निर्देशों के अनुसार केंद्र प्रायोजित योजनाओं में मुख्यमंत्री, केंद्रीय मंत्री, केंद्रीय राज्यमंत्री, राज्य सरकार के मंत्री, स्थानीय सांसद और विधायकों को निमंत्रित किया जाएगा। राज्‍य की योजनाओं में मुख्यमंत्री, विभागीय मंत्री, स्थानीय मंत्री, 20 सूत्री के प्रभारी मंत्री, स्थानीय विधायक शामिल होंगे। आजसू पार्टी नए आदेश का विरोध करेगी। पार्टी के केंद्रीय महासचिव सह गोमिया विधायक लंबोदर महतो ने कहा है कि नया निर्देश सांसदों का अपमान करने वाला है। उनके अस्तित्व पर भी सवाल खड़ा करने वाला झारखंड सरकार को इस निर्णय पर पुनर्विचार करना चाहिए। पूर्व की स्थिति बनाए रखना चाहिए। जानकारी हो कि 20 फरवरी को गिरिडीह संसदीय क्षेत्र के डुमरी विधानसभा के दारु बेड़ा से पिलपिलो मोड़ पथ चौड़ीकरण एवं मजबूतीकरण पुनर्निर्माण को लेकर आयोजित समारोह हुआ। इसमें गिरिडीह सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी को नहीं बुलाया गया। सूचना तक नहीं दी गई। शिलापट्ट पर भी उनका नाम नहीं है।

Show More

Related Articles