बढ़ सकती है राज्य के आधा दर्जन से अधिक अंचलाधिकारियों की मुश्किलें

इनके खिलाफ झारखंड हाईकोर्ट में जनहित याचिका दाखिल

रांची : झारखंड के आधा दर्जन से अधिक अंचलाधिकारियों की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। इनके खिलाफ झारखंड हाईकोर्ट में जनहित याचिका दाखिल की गई है। शिवशंकर शर्मा की ओर से उक्त याचिका दाखिल की गई है। याचिका में रांची जिले के नामकुम अंचल, हेहल अंचल, ओरमांझी अंचल, रांची सदर और नामकुम अंचल के अंचल अधिकारियों पर गड़बड़ी करने का आरोप लगाते हुए जांच व कार्रवाई की मांग की है। चास, गिरिडीह सदर, चंदनकियारी, सरिया और खूंटी सीओ का नाम भी याचिका में शामिल किया गया है। याचिकाकर्ता के अधिवक्ता राजीव कुमार ने बताया कि याचिका में इन सभी अंचल अधिकारियों पर प्राथमिकी दर्ज करते हुए विभागीय कार्रवाई शुरू करने का आग्रह अदालत से किया गया है। याचिका में आरोप लगाया गया है कि इन अंचल अधिकारियों ने साजिश के तहत गैर मजरुआ खास, गैर मजरुआ मालिक, प्रतिबंधित जमीन, छोटानागपुर काश्तकारी अधिनियम के तहत आनेवाली जमीनों को गलत तरीके से बंदोबस्त कर सरकारी राजस्व को करोड़ों रुपए का नुकसान पहुंचाया है। जंगल, झाड़ी, नदी-नाले की जमीन का अतिक्रमण कर उसे बिचौलियों से मिल कर बेच दिया है, जो अपराध है।

Show More

Related Articles