पूर्वी चंपारण के इश्तेयाक अहमद ने पेश की मिसाल, राम मंदिर निर्माण के लिए दान कर दी ढाई करोड़ की जमीन

बिहार में सामाजिक सद्भाव को आगे बढाने और गंगा जमुनी तहजीब की मिसाल कायम किया है इश्तियाक अहमद ने.

देश के कई हिस्सों में जहा साम्प्रदायिक घटनाओं की खबर आए दिन आती रहती है, वहीं बिहार में सामाजिक सद्भाव को आगे बढाने और गंगा जमुनी तहजीब की मिसाल कायम किया है इश्तियाक अहमद ने. जिन्होंने राम मंदिर के निर्माण के लिए ढाई करोड़ रुपये की जमीन दान की है। बिहार में दुनिया का सबसे बड़ा बनने वाला रामायण मंदिर के लिए मुस्लिम परिवार ने ढाई करोड़ की जमीन मुफ्त में दान कर बड़ा मिसाल पेश किया है।पूर्वी चंपारण के कैथवलिया में तैयार हो रहे सबसे बड़े रामायण मंदिर के लिए स्थानिय निवासी इश्तेयाक अहमद ने अपनी 23 कट्ठा जिसकी कीमत ढाई करोड़ से ज्यादा की है उसे दान कर दिया।पटना महावीर मंदिर के सचिव आचार्य किशोर कुणाल ने जानकारी देते हुए बताया कि इश्तेयाक अहमद के परिवार ने अगर जमीन नही दिया होता तो मंदिर निर्माण का सपना पूरा नही होता।इश्तेयाक अहमद ने कहा कि इतने बड़े मंदिर निर्माण में सहयोग देना जरूरी है। सभी को संदेश देते हुए बताया कि सभी लोग अगर मिल जुलकर रहेंगे तो कोई तनाव नहीं होगा।

Show More

Related Articles